NFT Kya Hota Hai | NFT क्या है? | NFT कैसे खरीदे | NFT को कैसे बेचें -2022

एनएफटी (NFT) यानी नॉन-फंजिबल टोकन : देखा जाए तो अधिकतर लोग NFT (NON Fungible Token) के बारे में जानने की बड़ी इच्छा जुटा रहे है। अधिकतर लोग NFT के बारे में बिल्कुल भी नही जानते है जो लोग थोड़ा बहुत जानते है तो वे सही तरीके से NFT का उपयोग करना नहीं जानते है की NFT क्या है? (NFT Kya hota hai?) NFT कैसे काम करता है?(how NFT works?) और एनएफटी कैसे खरीदे और NFT कैसे बेचा जाता है (how to sell NFT?) और Web 3.0क्या है? (what is web 3.0 in hindi).

आज हम नॉन-फंजिबल टोकन kya hai (What is nft in hindi) और इससे जुड़ी सारी जानकारी इस आर्टिकल के माध्यम आपको बताने वाले है जैसे की NFT किस टेक्नोलॉजी पर आधारित है ? इसे कौन खरीद सकता है ? क्या स्टूडेंटएनएफटी खरीद सकते है या फिर नहीं । इसलिए इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़े।

NFT Kya Hota Hai? (NFT क्या है? )

आपको बता की NFT का फुलफॉर्म (NFT full form in hindi) “NON Fungible Token” है जिसमे NON Fungible शब्द का मतलब NON Replaceable या NON Exchangable. चलो अब हम जानेगे डिटेल में की यह नई टेक्नॉलजी है क्या? एक दम सरल भाषा में, क्यूंकि इसे समझना बोहत जरुरी है यदि आप भी एनएफटी Investment (निवेश ) करने की सोच रहे है, और आने वाले समय में यह एक एक्सपेंसिव मार्किट होने वाला है ।

NFT Kya Hota Hai

NON Fungible शब्द का मतलब (NON-Fungibile in Hindi)

NON Fungible शब्द का मतलब एक ऐसी वस्तु या सामान जिसको हम एक जैसी वस्तु या सामान के साथ बदल नही सकते (NON Exchangable) क्योंकि उसके अंदर एक खास या यूनिक बात है। ठीक इसी तरह से ऑनलाइन की दुनिया में NON Fungible Token का इस्तेमाल डिजिटल आर्ट और डिजिटली मौजूद चीजों के लिए हो रहा है। इसका एक यूनीक कोड होता है, जो डिजिटल दुनिया में किसी और का नहीं हो सकता।

You May also Like:

Online business kaise kare | ऑनलाइन बिज़नेस कैसे करे ?-2022

Social media Hashtags for Youtube Subscribers 2021

NFT आखिर होता क्या है?

चलिए अब हम और examples क साथ देखते है की NON Fungible Tokenआखिर होता क्या है जो लोग इतना पागल हो रहे है इसे खरीदने के लिए और समझते है की इसे आम ज़िंदगी की भाषा में ।

जैसे मान लीजिए की आपके और आपके दोस्त के पास एक जैसी एक ही ब्रांड की पेन है और आपके पास जो पेन है वो आपके पापा ने आपको गिफ्ट में दिया है जो आपकी पसंदीदा पेन है ।

उस पेन को आपका दोस्त आपके पेन के जैसे दिखने वाले से बदलने को बोल रहा है तो आप उसे देने से मना कर रहे हो क्योंकि वो आपके लिए खास और यूनिक है जिसे हम NON Fungible बोलते है।

जो भाले ही देखने में एक जैसी (same) हो लेकिन कुछ खास यूनिक पीस (unique art) जो दुनिया में उसके जैसा दूसरा नही इसी की कारण से कीमत में फर्क देखने को मिलता है जिसमे उसकी कीमत बहुत अधिक हो जाती है ।

Fungible in Hindi ( Fungible kya hota hai?)

Fungible का मतलब होता है जिसमे सैम वैल्यू का दूसरा सामना ले लेना जैसे आपके पास 2 हजार का नोट है और अपने उस 2 हजार के नोट के बदले चार 500 के नोट ले लिए इसमें आपके पास  सैम वैल्यू वाले नोट आपके पास पहुंच गए इसी को Fungible करते है।

What is a token ? ( Token kya hota hai?)

अब बात करते है Token क्या है? टोकन ( token) का नाम सुनते हे हमें की होलटे या resturant की yad आ जाती है, कुछ खरीदने से पहले टोकन लेना जरुरी होता है ।

आसान भाषा में कहे तो पहले काउंटर पर पैसे दे कर हमे एक टोकन लेना पड़ता है । फिर वही टोकन को दिखा कर हमे सामान मिल जाता है ।
लेकिन एनएफटी ki duniya में टोकन का थोड़ा सा अलग meaning होता है , ज्यादा फर्क नहीं है , बस यह ऑनलाइन होता है ।

More Exmaples on Token

जैसे हम कभी घर खरीदने और बेचने के लिए हमारे नाम पर एक पूरा एग्रीमेंट होता है जिसमे सारी फार्मेलिटीज करने के बाद हमे जो रजिस्ट्री मिलती है वो एक प्रूफ होता है की ये हमारा घर है इसके हम मालिक है ।

बस अगर हम डिजिटली (digital world)कुछ करते है मान लेते है की हमने कोई गाना बनाया है कोई डिजीटली पेंटिंग बनाई विडियोज या कोई इमेज या कोई टून ऐसी बहुत सारी चीजों डिजिटली फोम में प्रूफ करने के लिए की हमने ये सारी चीजे बनाई है हम ही इसे ऑन करते है हम ही इसके मालिक है तो उस प्रूफ Token कहते है वो प्रूफ डिजिटली फोम में होगा इस Token के जरिए काम किसी डिजिटली एनएफटी को खरीद और बेच सकते है।

चलिए अब हम जानते है की NON Fungible Token किस technology पर आधारित है और यह टेक्नोलॉजी कैसे काम करती ?

Blockchain Technology क्या है? ( Blockchain kya hota hai?)

हालाँकि हमने यह जान लिया की NFTआखिर होती क्या है और इसका फुल फॉर्म क्या होता है। अब हमारी रूचि और बढ़ रही है , तो आपको बता दे की एनएफटी ब्लॉकचैन टेक्नोलॉजी पर आधारित है ( NFT is based on Blockchain yechnology).

Blockchain kya hota hai

आप बिटकॉइन के बारे में तो पक्के में जानते हैं ना तो बस ब्लॉकचेन को समझना आपके लिए आसान होगा क्योंकि बिटकॉइन के रिकॉर्ड कीपिंग टेक्नालॉजी को ब्लॉकचेन कहते हैं।

और यह बिटकॉइन जैसे क्रिप्टो करेंसी (crypto currency) के अलावा बैंकिंग और इन्वेस्टिंग की दूसरी फॉर्म से भी रिलेट करती है इसलिए बेहतर यही होगा कि आप इसके बारे में जान लिया और इसके लिए आपको यह आर्टिकल पूरा पढ़ना होगा ।

Blockchain kya hai? ( ब्लॉकचेन क्या है?)

सबसे पहले ब्लॉकचेन को अच्छी तरह समझते हैं कि आखिर यह है क्या? असल में ब्लॉक चैन एक तरह का डेटाबेस (database) है।

और यह डेटाबेस इनफॉर्मेशन का एक कलेक्शन होता है जो कंप्यूटर सिस्टम पर इलेक्ट्रॉनिकली स्टोर रहता है इस डेटाबेस पर इनफॉर्मेशन और डेटा टेबल फॉर्मेट में सेट होते है ताकि उसे एक स्पेसिफिक इनफॉर्मेशन की सर्चिंग और फिल्टरिंग आसानी से की जा सके। यू तो एक स्प्रेसिट भी टेबल फॉर्म में होती है लेकिन उसे डेटाबेस अलग इसलिए होता है क्योंकि इस स्प्रेसिट केवल एक व्यक्ति के लिए बनाई जाती है।

जबकि डेटाबेस का उपयोग कितने भी यूजर्स एक बार में कर सकते है ब्लॉकचैन का पर्वत परिपत डिजिटल इनफॉर्मेशन को रिकॉर्ड और डिस्ट्रीब्यूट करने की परमिशन देता है लेकिन एडिट करने की नही ये टेक्नोलॉजी सबसे पहले 1991 में Stuart Haber और W. Scott Stornetta के जरिए सामने आई थी फिर ये साल 2009 बिटकॉइन के साथ ही मिली।

इसे ब्लॉकचैन इसलिए कहा जाता है इसके पीछे का कारण ये है की ब्लॉकचैन इनफॉर्मेशन को ग्रुप्स में कलेक्ट करता है और इन ग्रुप्स को ब्लॉक्स भी कहा जाता है हर एक ब्लॉक में लिमिटेड स्टोरेज कैपेसिटी होती है इसलिए जब एक ब्लॉक भर जाता है तो वह पहले भरे हुए ब्लॉक से जाकर जुड़ जाता है  ऐसे एक चैन बन जाती है डेटा की चैन और इसलिए इसे ब्लॉकचैन कहा जाता है।

हमें उम्मीद है की आप कुछ हद तक समझ गए होंगे की ब्लॉक चैन आखिर है क्या ? अब हम जानेगे यह टेक्नोलॉजी कैसे काम करती है।

Blockchain Technology कैसे काम करती है?

Blockchain k bare mein पढ़ने के बाद हमें इतना पता होना चाइये ki Blochain kaam kaise karti hai ?

ये ब्लॉक ऐसे ब्लॉक की चैन है जिसमे इनफॉर्मेशन है हर ब्लॉक के पास पिछले ब्लॉक का एक क्रिप्टोग्राफी हैश है ये हैश हर ट्रांजेक्शन पर जनरेट होता है यह नंबर और लेटर्स की एक स्ट्रैंथ है हैश ऐसा कनेक्शन है जो लेटर्स और नंबर्स के इनपुट को एक फिक्स लेंथ के क्रिप्टेक आउटपुट में कन्वर्ट करता है।

ये हैश केवल ट्रांजेक्शन पर डिपेंड नही करता है बल्कि चैन में उसे पहले बने हुए ट्रांजेक्शन हैश पर भी डिपेंड करता है अगर ट्रांजेक्शन में एक छोटा भी बदलाव लिया जाए तो एक नया हैश बन जाता है यानी अगर ब्लॉकचैन के डेटा के साथ कोई भी तरह भी छेड़ छाड़ की जाएगी तो उसकी सारी सेटिंग्स बदल जाती है  इसे रिकॉर्ड में की गई हेरा फेरी का पता लगाया जा सकता है इसलिए ये एक सिक्योर ऑप्शन है ।

ये ब्लॉकचैन है कंप्यूटर पर दिखती है और इसकी कॉपी हर कंप्यूटर के पास होती है इन कंप्यूटर्स को नॉट्स कहते है ये नॉट्स हैश को चेक करके पता लगाते है की ट्रांजेक्शन में कोई बदलाब तो नही हुआ है अगर ट्रांजेक्शन को ज्यादातर नॉट्स  अप्रूव कर देते है तो उस ट्रांजेक्शन को ब्लॉक में लिखा जाता है।

ये नोट्स ब्लॉक का इन्फ्रास्ट्रक्चर फॉर्म करते है येबलॉकचैन डेटा तो स्टोर स्प्रेडा और प्रिजर्व्स करते है एक फुल नोट कंप्यूटर डिवाइस होती है जिसे पास डेटा ट्रांसैक्टिन की एक फुल कॉपी होती है ये ब्लॉकचैन अपने आपको हर 10 मिनट में अपडेट करती है।

ब्लॉकचैन के इंपोर्टेंट एलिमेंट्स क्या है और ये मिलकर कैसे  काम करते है ये जानने के बाद आपको बाते है की एनएफटी और Bitcoin के लिए  ब्लॉकचैम टेक्नोलॉजी कैसे यूजफुल है।

NFT और Bitcoin एक स्पेसिफिक तरीके का डेटाबेस है जो हर NON Fungible Token और Bitcoin ट्रांजेक्शन को स्टोर रखता है NFT और Bitcoin जैसी cryptocurrency को ब्लॉकचैन इन करेंसी को कंप्यूटर  के नेटवर्क पर स्प्रेट करता है ।

जिसे बिना किसी सेंट्रल अथॉर्टी के ऑपरेट संभव हो पाता है ऐसे बहुत से एरिया है जहां ब्लॉकचैन फायदेमंद साबित हो सकता है  और बहुत से इंपोर्टेंट सैक्टर की सर्विस को बेहतर बना सकती है ।

बैंकिंग और ब्लॉकचैन mein kya diffrece hai

जैसे बैंकिंग और ब्लॉकचैन के बीच  डिफरेंस को देखे तो फाइनेशियल इंस्टीट्यूशन में ज्यादातर 5 से 7 दिन का काम होता है और अगर आप बैंक के जरिए कोई चेक से कैश निकालें में 5 से 10 दिन का समय लगता है और ऐसे में बैंक्स में इंटिग्रेटिंग ब्लॉकचैन के जरिए ट्रांजेक्शन 10 मिनट में की जा सकती है ।

ब्लॉकचैन के जरिए बैंक और इंटीट्यूशन के बीच फंड  एक्सचेंज तेजी से कर सकते है और हैल्थ केयर सेंटर की बात करे तो इस में ब्लॉकचैन का यूज करते पेसेंट के मेडिकल रिकॉर्ड को सिक्योर किया जा सकता है इसलिए जब मेडिकल रिकॉर्ड जा लिखा या साइन किया जाए तो इसे ब्लॉकचैन पर लिखा जा सकता है।

इसे पेशेंट को ये प्रुफ मिलेगा की उनके रिकॉर्ड को अब चेंज नहीं किया जा सकता है इस में Private key का भी इस्तमाल किया जा सकता है जिसे इसकी प्राइवेसी भी बनी रहे। इसके अलावा ब्लॉकचैन का उपयोग supply chain और। Voting System में भी किया जा सकता है जिसमे election इलेक्शन गोटालो को रोका जा सकता है और ब्लॉकचैन protocol से इस में  ट्रांसपेरेंसी भी बनाई रखी जा सकती है।

हमने नफ्त और ब्लॉकचैन कबारें में काफी कुछ जान लिया है, अब बात आती है इसे बनाने की और खरीदने और बेचने की । तो देर किस बात की चलो जाने है की आप NON Fungible Token कैसे बनाये?

NFT kaise banaye? ( How to create NFts?)

NFT kaise banaye? ( How to create NFts?)

NFT आप बड़ी आसानी से बना सकते है इंटरनेट पर आपको बहुत सारी वेबसाइट मिल जायेगी जिनके जरिए आप फ्री में NFT बना सकते हो और अगर आपको फोटो एडिटिंग और विडियोज एडिटिंग  या फिर आपको ग्राफिक डिजाइनिंग आती है तो आप उसके जरिए भी एनएफटी बना सकते है और भी बहुत सारे यूनिक तरीके जैसे विडियोज क्लिप पेंटिंग इनको एनएफटी बना सकते है। Dosto isi tarh se aap jan gye ki NON Fungible Token Kya Hota Hai aur NFT kaise banaye? Chaliye aage badhte hai.

NFT कैसे खरीदे? (how to Buy NFT?)

NFT खरीदने के बहुत सारे प्लेटफार्म है जहां आप जा कर ऑनलाइन एनएफटी खरीद सकते है अगर आप फ्री में एनएफटी फील्ड में अपना भविष्य बनाना चाहते है तो आपको इंटरनेट पर बहुत सारी वेबसाइट मिल जायेगी जिनमे से एक है

Opensea जहा आप फ्री में जा कर अपना NFT का काम चालू कर सकते हो इस वेबसाइट के जरिए आप NON Fungible Token खरीद सकते हो याह आप को बहुत सारी NFT कलेक्शन मिल जायेगे जिसे आप अपनी पसंदीता NFT को Metamask  के जरिए आप एनएफटी खरीद सकते है जो एक तरह का ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है जहां आपको मेटामास्क एक तरीके का डिजिटल अकाउंट है इस अकाउंट के ज़रिए आप NFT खरीद सकते है। Agr aap yaha tak padh kar aa gye hai to aap yeh jarur jaan gye honge ki NFT kya hota hai? Aur jankari k liye aage padhe.

NFT को कैसे बेचें? ( how to sell NFT in Hindi?)

अगर आपको अपनी किसी डिजिटल आर्टवर्क को बेचना है है तो आप Google पर सर्च करे टॉप एनएफटी सेल वेबसाइट तो आपको बहुत सारी अच्छी वेबसाइट दिखने लगेगी कहा आप अपनी डिजिटल आर्टवर्क को Metamask के जरिए सेल कर सकते है अब आपके मन में सवाल आ रहा होगा की ये metamask है क्या? तो चलिए आगे पढ़े विस्तार में ।

MetaMask क्या है? ( what is Metamask?)

आपको अपनी आर्टवर्क को NON Fungible Token में कन्वर्ट करने के लिए सबसे पहले आपको crypto wallet की जरूरत पड़ेगी जिसमे आपके पैसे रहेंगे और सेल होने पर इसी में आपके पैसे आयेंगे और खरीदने पर इसी में से पैसे ट्रांसफर होंगे ।

MetaMask क्या है? ( what is Metamask?)

MetaMask(मेटमास्क) उसी अकाउंट का काम करेगा जिसे जरिए आप अपनी एनएफटी आर्टवर्क (NFT artwork) को बेच और खरीद सके MetaMask इस डिजिटल दुनिया का एक फेमस अकाउंट प्लेटफार्म है जो ब्लॉकचैन टेक्नॉल्जी पर काम करता है इसलिए सभी ट्रांस्क्शन रूपये में ही Cryptocurrency में होती है ज्यादातर एथिरियाम cryoto coin को इस्तमाल किया जाता है इस ट्रांजक्शन के लिए इसलिए आपको मेटमास्क की जरूरत पड़ेगी

MetaMask अकाउंट कैसे बनाएं

aap yeh jan gye ki एनएफटी Kya hai in Hindi? ab jante hai ki MetaMask में अकाउंट बनाने के लिए आपको MetaMask की वेबसाइट पर जाओ वहां से एप्लीकेशन डाउनलोड करो या फिर प्लेस्टोर से भी डाउनलोड कर सकते है और उसे अपने मोबाइल फोन में इंस्टॉल कर ले

step 1: उसके बाद आपको एप्लीकेशन ओपन करने ।

step 2: आपको उसमे दो ऑप्शन दिखेंगे जिमने से आपको Creat wallet वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है।

step 3: कुछ टर्म एंड कंडीशन को पढ़कर आई एग्री पर क्लिक कर।

step 4: और फिर अपना अकाउंट बनाले

step 5: इस स्टेप में आपको secret recovery phrase मिल जायेगा जिसको आपको है सैफ जगह रखना है किसी के हाथ में नही लगना चाहिए नही तो आपके MetaMask अकाउंट को अपने कब्जे में ले सकता जिसे आपके पैसे निकाले जा सकते है

step 6:  इस स्टेप में आपको अपना recovery phrase को एक बार कन्फर्म करने के लिए इस स्टेप में डाले इसके बाद आपका अकाउंट बन जायेगा ।

इसके बात बाद आप अपने MetaMask wallet में crypto currency deposit और withdraw कर सकते हो किसी भी एनएफटी प्लेटफार्म पर अपने अकाउंट को लिंक करके अपने अकाउंट से ट्रांजेक्शन कर सकते हो ।

Conclusion: NFT Kya hota hai in Hindi?

दोस्तों हमें उम्मीद है की आप समझ गए होंगे की NFT kya hota hai ? एनएफटी kaise khareede? blockchain क्या? है और ko kaise beche? आप यह article को share कर सकते है अपने दोस्तों क साथ और उन्हें भी इस technology से वाकिफ करवा सकते है ।

चलिए अब हम लेते कुछ मोस्ट frequently asked questions को और इस आर्टकिले को यही ख़तम करते है ।

FAQS about NFT in Hindi

NFT कैसे काम करता है?

NFT का फुलफॉर्म (NFT full form in hindi) “NON Fungible Token” है जिसमे NON Fungible शब्द का मतलब NON Replaceable या NON Exchangable. NFT का इस्तेमाल डिजिटल आर्ट और डिजिटली मौजूद चीजों के लिए हो रहा है। इसका एक यूनीक कोड होता है, जो डिजिटल दुनिया में किसी और का नहीं हो सकता।
एनएफटी ब्लॉकचैन टेक्नोलॉजी पर आधारित है ( NFT is based on Blockchain yechnology).

क्या मुझे एनएफटी में निवेश करना चाहिए?

आप NFT में investment कर सकते है , लेकिन उससे पहले आपको इस technology के बारे में जान लेना चाइये ।